अनुरक्ति रहित एक मजबूत कड़ी बने... सुश्री प्रिया मुले की self healing

t4unews:तात्पर्य की पानी में कमल रहते हुए भी पानी से ऊपर आता है इसीलिए जलज कहलाता है आप समस्याओं और उन लोगों के बीच में एक विशेष बंधन के साथ जुड़े हुए होने के बाद भी स्वयं को उसमें शामिल ना करते हुए अपने विचार को उर्ध्व मुखी रखें और रृणात्मक से धनात्मक दृष्टिकोण की ओर देखते हुए आगे कदम बढ़ाए ताकि जीवन में अंधेरा नहीं उजाला ही उजाला बना रहे।

इनकी रचना आप एक बार जरूर सुने यूट्यूब में जाकर
Be a strong chain but make sure you yourself are not tied through it... self healing

हम यह सोचते हैं कि हमारा जीवन जब तक परिपक्वता से परिपूर्ण ना हो हम अपने विचार साझा नहीं कर सकते अर्थात यदि हमारे पास अनुभव के भन्डार होगी तो ही हम उसकी दरिया बहा पाएंगे ऐसा हमें मानना होता है।इसी कारण जब हम किसी ज्ञान की विषय में हम जानते भी हैं तो भी हमें उसके बारे में लोगों को बताने में इस बात की अड़चन होती है कि कहीं लोग अन्यथा ना समझ ले कि अभी तो आप के बाल  पके ही नहीं है और आप हमें ज्ञान देने लगे ।ज्ञान अर्जन और ज्ञान की प्रदान करने की कोई सीमा या उम्र नहीं होती यदि आप वास्तविक जीवन में हर प्रकार के कार्य को गंभीरता और संजीदगी से जीते हुये  जब महसूस करते हैं या उसे पूरा करते हैं तब उसमें अनचाहे रूप से कई गलतियां होती है ।जो ज्यादा गलतियां करता है अर्थात जो बहुत अधिक असफल होता है वही सही मामले में अच्छा योग गुरु साबित हो सकता है क्योंकि उसे उस सभी नेगेटिव प्वाइंट के बारे में मालूम होता है। जिसे वह अनुभूत कर चुका होता है और सफल होने वाले केवल 3% लोग जो जीवन में उस मार्ग तक पहुंच पाते हैं उन्हें  ज्ञान देता है ।
मौजूदा जानकारी  प्रिया सुले के बारे में आपको अवगत कराना चाहेंगे कि यह उभरती हुई लेखिका, कवियत्री एवं मनोवैज्ञानिक रूप से अपने प्रेरणादायक विचारों को नव युवकों और सभी जीवन में संघर्ष कर रहे लोगों तक पहुंचाना चाहती है जो जीवन के वास्तविकता को समझ सकें। आपने कंप्यूटर एप्लीकेशन स्नातक शिक्षा के उपरांत एक आदर्श अध्यापिका के रूप में इंजनियरिंग कॉलेज में अपना कार्य आरंभ किया और अपना अध्यापन कार्य संपादन कर रही है। बहुत जल्द ही आप अपनी गरिमा से युक्त इस अनुभव और अध्ययन को सेंट एलाइस कॉलेज में लेक्चरर के रूप में देने जा रही हैं ।आप इनकी ज्ञान के अनुभव को वीडियो और ऑडियो के रूप में यूट्यूब में इनके चैनल में भी देख और सुन सकेंगे ।इन्होंने अपनी उम्र का पूरा अनुभव और ज्ञान नई पीढ़ी को देने का प्रयास किया है वह कहीं कहीं पर बहुत सारगर्भित है तो कहीं पर अनुभव जन्य है।

 

सुश्री प्रिया मुले जबलपुर मोटिवेशनल स्पीकर

 



Download smart Think4unity app