शादियों क्यों नहीं टिकती ?

मुझे मायके में कभी किसी चीज की कमी नहीं रही। हे भगवान  मुझे किस कंगाल के पल्ले बांध दिया है मेरे बाप ने ......इस निखट्टू नल्ले से।
और शुरू हो जाता है जीवन में 99  का फेर ।
लग जाता है हर  शादी शुदा आदमी अपनी दिलरुबा को हर खुशी हर सुविधा देने के लिए गलत काम  चाहे जो अंजाम हो ....करना शुरू कर देता है।

शादियों क्यों नहीं टिकती ?
शादीशुदा पत्नी की नखरें

t4unews:- क्यों लोग अपनी चादर से ज्यादा पैर पसारते हुते भ्रष्टचार पर उतर आते हैं?

क्योंकि लड़कियों की परवरिश और लड़कों का जीवन दोनों कल्पना लोक में फिल्में को आधारित करके आरंभ होती है ।माता-पिता अपने बच्चों को हमेशा इस प्रकार की परवरिश करते हैं जिससे की उन्हें किसी चीज का अभाव ना हो।यही सबसे बड़ी गलती हर अभिभावक आजकल कर चुका होता है ।वह ये नहीं जानता कि आसानी से सुलभ होने वाली हर वस्तु बच्चों को उनका अधिकार लगती है और जब तक वह  होश संभालकर बड़े होते हैं उन्हें इस बात को समझते बहुत समय लग जाता है कि जैसा वो चाहते हैं दुनिया उनकी अनुसार  क्यों नहीं चलती?

इस वीडियो में देखें नारियों की नखरे
 इस वीडियो में एक नवयुवक दंपति के वार्तालाप जो स्पाई कैमरे से दिखाया गया है ,फिल्माया गया है या विशेष तरीके से सूट किया गया है  वह सत्य को बयां करती है। अक्सर देखा गया है कि बेसिर  पैर  की मांग (कन्या bride द्वारा बिवाह के बाद )और महत्वाकांक्षा ambition की अतिरेक ही परिवार  को नष्ट  देती है नरक बना देती है ।व्यक्ति चाह कर भी संतोषी सुखी नहीं बन सकता क्योंकि उसके साथ ऐसा जीवन साथी होता है जो चाहता है उसकी सारे गलत सही मांगे अलादीन की जिन्न जैसी पूरी हो जाए ।यही से आरंभ होता है लड़ाई झगड़े और बातों का ,तानें  देने का दौर की .......मुझे मायके में कभी किसी चीज की कमी नहीं रही। हे भगवान  मुझे किस कंगाल के पल्ले बांध दिया है मेरे बाप ने ......इस निखट्टू नल्ले से।
और शुरू हो जाता है जीवन में 99  का फेर ।
लग जाता है हर  शादी शुदा आदमी groom अपनी दिलरुबा  bride को हर खुशी हर सुविधा देने के लिए गलत काम  चाहे जो अंजाम हो ....करना शुरू कर देता है।

लोभ लालच और किसी भी  अनर्गल प्रकार से धन कमाने की जुगुत्सा जो अंत होता है........ नायक के जेल में जाने के बाद या इस जीवन से ऊपर चले जाने के बाद।



Download smart Think4unity app