पुण्य प्रसून बाजपाई की वर्तमान परिपेक्ष में भारत के लोकतंत्र पर विचार

#Punya prasun Bajpai,# Bharat ,#democracy ,#Hitler ,#Modi

t4unews: पुण्य प्रसून बाजपेई द्वारा किसान आंदोलन के माननीय सुप्रीम कोर्ट के द्वारा दखल दिए जाने के उपरांत कानून के स्थगन और नई कमेटी बनाते हुए बीच में हस्तक्षेप करने की किए गए प्रयास पर दिया गया यह व्याख्यान देश की गणतंत्र की एवं प्रजातांत्रिक व्यवस्था पर एक गंभीर कटाक्ष करता है प्रथा मौजूदा सरकार के लिए एक संदेश है कि वह इनकी नियत को भले ही विपक्षी और विरोधी स्वरूप में ग्रहण करते हुए इन्हें सुने । सरकार में कार्य कर रहे हैं सभी विधि पालिका कार्यपालिका को इस परिस्थितियों  में विश्लेषण और आत्म चिंतन करने की ,अपने देश हित के कार्य करने की जरूर गहराई से सोचें।

इस वीडियो को सुनने के बाद आप अपना अभिमत कमेंट बॉक्स में केवल इतना लिखें कि आप पुण्य प्रसून बाजपेई के इन विचारों से

 सहमत हैं  तो -१ लिखें

अथवा असहमत है तो -२ लिखें ।

जितने ज्यादा लोगों की संख्या असहमति होगी या सहमत की होगी, उनमें से किसी एक भाग्यशाली प्रतियोगी को हमारे न्यूज़ चैनल द्वारा प्राइस या इनाम दिया जाएगा । जो स्पिनर के द्वारा चयन किया जाएगा। कृपया कमेंट बॉक्स में अपना सहमति हेतु १ एवं असहमति  हेतु २ तथा नाम और मोबाइल नंबर जरूर दर्ज करें जिससे कि आपको इनाम देने में कोई असुविधा ना हो सके।



Download smart app