PM Free Solar Pump Yojana : किसानो को  फ्री सोलर पंप, लाभ के लिए करे आवेदन,

पीएम सोलर पंप योजना

यह सोलर पंप योजना (Solar Pump Yojana) सालाना 80000 रुपये कमाने का मौका दे रही है । सौर ऊर्जा (Kusum Solar Pump Yojana) उत्पन्न करने के लिए सरकार अब बंजर भूमि का उपयोग करेगी। 1 मेगावाट सोलर प्लांट लगाने के लिए केंद्र सरकार को 5 एकड़ जमीन की जरूरत है। प्रत्येक 1 मेगावाट क्षमता का सौर संयंत्र सालाना आधार पर लगभग 11 लाख यूनिट बिजली पैदा करेगा। जिसे अप किसान व्यक्तिगत रूप से और सामूहिक रूप से कार्य करते हुए पूरा कर सकते हैं।

t4unews::PM Free Solar Pump Yojana : किसानो को मिल रहे फ्री सोलर पंप, लाभ के लिए करे आवेदन, अंतिम तिथि जल्द समाप्त होने वाली है जल्दी करें : कुसुम योजना (Kusum Yojana) किसानों (Farmers) पर एक 90% सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं ।सौर जल पंप योजना कब लागू होकर बहुत जल्द ही क्रियान्वित होने जा रही है। यह योजना बिजली और नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के तहत शुरू की गई है। प्रधानमंत्री सौर पंप योजना (Pradhan Mantri Solar Pump Yojana) का उद्देश्य भारत के किसानों (Farmers) को अतिरिक्त आय स्रोत प्रदान करना है जिसे हर किसान अपने खेत पर बिजली बनाकर प्राप्त कर सकता है।सरकार भारत कुसुम योजना (Kusum Yojana) की मदद से की सिंचाई प्रणाली को अद्यतन करने और साथ ही सौर ऊर्जा उत्पादन को बढ़ावा देने की योजना बना रही है। कुसुम योजना (PM Free Solar Pump Yojana) के लागू होने से निश्चित रूप से सौर ऊर्जा के उत्पादन को बढ़ावा मिलेगा। सरकार 3 करोड़ से ज्यादा डीजल और पेट्रोल पंपों को सोलर पावर पंप से बदलेगी। जिससे पर्यावरण को अपरोक्ष रूप से सहयोग मिलेगा और किसानों को लाभ का धंधा खेती को बनाने में सहयोग मिलेगा।

कुसुम योजना नवीनतम Update

1 फरवरी 2020 को केंद्रीय बजट की घोषणा की गई और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार 2022 तक किसान (Farmer) की आय को दोगुना करने का प्रयास करेगी और कृषि क्षेत्र (Agriculture Area) के विकास पर ध्यान केंद्रित करेगी। इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार ने इस योजना (PM Free Solar Pump Yojana) का लाभ  प्रथम चरण में 20 लाख किसानों को सोलर पंप की स्थापना के लिए खर्च करने का निर्णय लिया है।इतना ही नहीं किसान (Farmer) की आय बढ़ाने और समर्थन देने के लिए वित्त मंत्री द्वारा कई अन्य प्रस्तावों की घोषणा करते हुए प्रस्तावित किया गया है। जो आगामी होने वाले चुनाव के समय तक किसानों को राहत प्रदान करेगा और सरकार का वोट बैंक  बढ़ाएगा।

पीएम सोलर पंप योजना

यह सोलर पंप योजना (Solar Pump Yojana) सालाना 80000 रुपये कमाने का मौका दे रही है । सौर ऊर्जा (Kusum Solar Pump Yojana) उत्पन्न करने के लिए सरकार अब बंजर भूमि का उपयोग करेगी। 1 मेगावाट सोलर प्लांट लगाने के लिए केंद्र सरकार को 5 एकड़ जमीन की जरूरत है। प्रत्येक 1 मेगावाट क्षमता का सौर संयंत्र सालाना आधार पर लगभग 11 लाख यूनिट बिजली पैदा करेगा। जिसे अप किसान व्यक्तिगत रूप से और सामूहिक रूप से कार्य करते हुए पूरा कर सकते हैं।

खुशी सोलर पंप योजना

बिजली मंत्रालय और नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा के अनुसार , DISCOMs (वितरण कंपनियां) इस योजना (PM Free Solar Pump Yojana) के माध्यम से उत्पादित बिजली खरीदती हैं। किसान की जमीन पर सोलर पैनल (Kusum Solar Pump Yojana) लगाने वाली बिजली कंपनी जमींदार को 30 पैसे प्रति यूनिट का भुगतान करेगी, जो लगभग 6600 रुपये प्रति माह है। जिन किसानों की जमीन बंजर है पहाड़ी है पथरीली है उनके लिए योजना स्वर्ण की जैसी है।

Pradhan Mantri Solar Pump Yojana Details

कुसुम योजना (PM Kusum Yojana) के तहत भारत सरकार भारत के किसानों (Farmers) को कई लाभ प्रदान कर रही है। किसान सौर सिंचाई पंप (farmer Solar Sinchai Pump) लगाकर पेट्रोलियम ईंधन की लागत बचाते हैं। योजनाओं का दूसरा लाभ यह है कि किसान (Farmer) अतिरिक्त बिजली सीधे सरकार को बेच सकते हैं। कुसुम योजना (Kusum Yojana) केंद्र सरकार की दोहरा लाभ योजना है। प्रधानमंत्री सौर पैनल योजना (Pradhan Mantri Solar Pump Yojana) उन किसानों को अतिरिक्त आय प्रदान करेगी जो इन 2 मेगावाट सौर सिंचाई पंपों को स्थापित करेंगे।

पीएम सोलर पैनल योजना 2021 के लाभ

रियायती मूल्य पर सौर सिंचाई की सुविधा दी जाएगी। जिसमें किसी प्रकार का कोई इंधन का इनपुट नहीं होगा।
कुसुम योजना (Kusum Yojana) आय के अतिरिक्त स्रोत प्रदान करेगी।

भारत के सभी किसान कुसुम योजना (Kusum Solar Pump Yojana) के लिए आवेदन कर सकते हैं

कुसुम योजना पंजीकरण प्रक्रिया

यदि आप कुसुम योजना (PM Kusum Yojana) के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो  दिए गए साइट के  अनुभाग में जाएं जहां हम आपको किसान (Farmer) ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महाभियान योजना के तहत पंजीकरण के लिए सीधे लिंक का मूल्य निर्धारण कर रहे हैं।

Kusum Yojana हेतु क्लिक यहां करे

पर जाएं आधिकारिक वेबसाइट के कुसुम योजना (Kusum Yojana) आधिकारिक वेबसाइट पर प्रस्तुत पंजीकरण अनुभाग पर क्लिक करें

सभी आवश्यक विवरण प्रदान करें

किसानों (Farmers) ने अपना आधार नंबर और आधार से जुड़ा राष्ट्रीयकृत बैंक खाता जमा किया होगा।

डिक्लेरेशन सेक्शन पर क्लिक करें और फिर फॉर्म के आखिरी में सबमिट बटन पर क्लिक करें।

किसान ऊर्जा योजना (Kisan Solar Yojana) के तहत सफलतापूर्वक पंजीकरण करने के बाद।

चयनित हितग्राहियों को निर्देशित किया जाता है कि सोलर पंप सेट की 10 प्रतिशत लागत विभाग द्वारा स्वीकृत आपूर्तिकर्ताओं को जमा करायें।

सब्सिडी राशि स्वीकृत होने के बाद किसान (Farmer) के खेत में सोलर पंप सेट (Solar Pump Sets) चालू कर दिया जाता है।

सामान्य परिस्थितियों में, सौर पंप सेट 90 से 120 दिनों के भीतर चालू हो जाएगा।

पंजीकरण सूची कुसुम योजना

सबसे पहले कुसुम योजना (Kusum Yojana) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

वेबसाइट का होमपेज स्क्रीन पर दिखाई देगा।

“कुसुम योजना के तहत पंजीकृत आवेदक की सूची” विकल्प का चयन करें।

विकल्प पर क्लिक करने के बाद एक नया पेज खुलेगा जिसमें कुसुम योजना (PM Free Solar Pump Yojana) के तहत पंजीकृत आवेदक की सूची होगी।

अब कोई भी आसानी से सूची (PM Kusum Free Solar Pump Yojana) में अपना नाम देख सकता है।



Download smart Think4unity app