किसान आंदोलन में आज गई दो और किसानों की जान, कंपकंपाती ठंड के बीच अब बारिश की मार

सोशल मीडिया में वायरल हो रहे हैं किसानों की हुजूम और जत्थों की लाइव रिपोर्ट से भी मीडिया शर्मसार हो रहा है । बड़े बैनर के सभी मीडिया किसानों के द्वारा नकार दिए गए हैं और छोटे स्ट्रीमिंग यूट्यूब और फेसबुक के निष्पक्ष पत्रकारों द्वारा जीरो ग्राउंड से लाइव रिपोर्टिंग को हाथों हाथ देखा जा रहा है उसमें लाइकिंग टीआर पी बढ़ रही है।

किसान आंदोलन में आज गई दो और किसानों की जान, कंपकंपाती ठंड के बीच अब बारिश की मार
Site of protest

t4unews:-हमारे संवाददाता की जानकारी के अनुसार किसान आंदोलन में माना जा रहा है कि जींद जिले के गांव इट्टल कला के रहने वाले जगबीर की मौत अत्यधिक ठंड के कारण हुई है। हालांकि जांच पूरी होने के बाद ही मौत की असली वजह का पता चलेगा। लगातार 34 दिन किसानों का आंदोलन जारी है और वे किसी भी तरीके से समझौते के पक्ष में नहीं है जब तक तीनों किसान बिल वापस नहीं हो जाते हैं। मौसम की गंभीर मार के बीच कड़ाके की ठंड और ऊपर से बरसात में तापमान के बहुत ज्यादा गिरने से हाइपोथर्मिया के कारण संभवत बुजुर्ग किसानों की जो मौत हुई है उससे वहां गम और आक्रोश दोनों पनप रहा है सरकार से इस कल 4 तारीख को होने वाले बैठक के बाद तय हो सकेगा की आगे की लड़ाई कैसी लड़नीं है आर या पार की।


इधर सोशल मीडिया में वायरल हो रहे हैं किसानों की हुजूम और जत्थों की लाइव रिपोर्ट से भी मीडिया शर्मसार हो रहा है । बड़े बैनर के सभी मीडिया किसानों के द्वारा नकार दिए गए हैं और छोटे स्ट्रीमिंग यूट्यूब और फेसबुक के निष्पक्ष पत्रकारों द्वारा जीरो ग्राउंड से लाइव रिपोर्टिंग को हाथों हाथ देखा जा रहा है उसमें लाइकिंग टीआर पी बढ़ रही है।

साभार अमर उजाला



Download smart Think4unity app