इंदौर में बर्ड फ्लू : नए साल के पहले दिन दस्तक, मरे कौओं में मिला वायरस

पशु चिकित्सा विभाग के संचालक आर के रोकड़े का कहना है कि अभी तक यह बीमारी सिर्फ कौवौं में देखी गई थी । एहतियात  के तौर पर मुर्गियों के इलाज के लिए भी सारे मुर्गी फॉर्म वाले मुर्गी पालकों को सूचना दे दी गई है।

इंदौर में बर्ड फ्लू : नए साल के पहले दिन दस्तक, मरे कौओं में मिला वायरस
Crow of indore credit amarujala

t4unews- मध्यप्रदेश के इंदौर शहर के हरे-भरे इलाके में हाल ही में मृत पाए गए कौओं में शुक्रवार को बर्ड फ्लू के वायरस की पुष्टि हुई। इससे सतर्क प्रशासन ने सर्दी, खांसी और बुखार के लक्षणों वाले मरीजों का पता लगाने के लिए अभियान शुरू कर दिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार इंदौर में 29 सितंबर को पहली बार 13 को में मृत मिलेंगे और नीमच में 40 से 45 कौवा और कबूतर मर गए मंदसौर में दूसरों को में की जो मौत हुई है उसको देख कर के पूरा प्रशासनिक अमला घबराया हुआ है।

इंदौर शहर में 7 टीमों ने ₹500 में सर्वे किया जिसमें 14 लोगों में सर्दी खांसी के लक्षण में मिले। किसी में बर्ड फ्लू एवियन इनफ्लुएंजा का लक्षण नहीं मिला। प्रभारी सीएमएचओ डॉ पूर्णिमा गडरिया ने कहा कि जरूरत पड़ने पर संदिग्ध मरीजों के नमूने लेकर जांच के लिए भोपाल भेजेंगे। आज इस बात की लगभग पुष्टि हो रही है कि h5 एंड n8 एवियन इनफ्लुएंजा का संक्रमण हुआ है।


पशु चिकित्सा विभाग के संचालक आर के रोकड़े का कहना है कि अभी तक यह बीमारी सिर्फ कौवौं में देखी गई थी । एहतियात  के तौर पर मुर्गियों के इलाज के लिए भी सारे मुर्गी फॉर्म वाले मुर्गी पालकों को सूचना दे दी गई है।



Download smart Think4unity app