E व्हीकल को वायरलेस तकनीक से चार्ज किया जा सकता है।

केएल कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग विभाग के तीसरे और चौथे वर्ष के छात्रों की एक टीम ने इस इलेक्ट्रिक बाइक के प्रोटोटाइप को पेश किया है। आने वाले समय में पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को देखते हुए इस प्रकार के वहीकल का उपयोग करना सार्वभौमिक हो जाएगा।

#E- vehicle,bike,battery,engineering,k l collage,इंजीनियरिंग,प्रोटोटाइप

E व्हीकल को वायरलेस तकनीक से चार्ज किया जा सकता है।
#wireless charging ebike

t4unews:- रिन्यूएबल एनर्जी के क्षेत्र में इंजीनियरिंग कॉलेजों के स्टूडेंट्स द्वारा प्रोजेक्ट्स के तौर पर अब तक कई अलग-अलग तरह के इलेक्ट्रिक वाहनों को तैयार किया जा चुका है। लेकिन इस बार छात्रों के एक दल ने ऐसी इलेक्ट्रिक बाइक प्रोटोटाइप तैयार किया है जिसे वायरलेस तकनीक से चार्ज किया जा सकता है। केएल कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग विभाग के तीसरे और चौथे वर्ष के छात्रों की एक टीम ने इस इलेक्ट्रिक बाइक के प्रोटोटाइप को पेश किया है। आने वाले समय में पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को देखते हुए इस प्रकार के वहीकल का उपयोग करना सार्वभौमिक हो जाएगा।

केएल डीम्ड यूनिवर्सिटी के छात्रों के इस दल ने विशेषज्ञों और वरिष्ठ शिक्षाविदों की सलाह के साथ कॉलेज के ही प्रयोगशालाओं और परीक्षण सुविधाओं का उपयोग करते हुए इस प्रोटोटाइप को विकसित किया है। इस प्रोजेक्ट आइडिया को स्टार्ट-अप के रूप में विकसित करने के लिए छात्रों को 1.4 लाख रुपये का अनुदान देकर पुरस्कृत भी किया गया है। 



Download smart Think4unity app