देखिए जिंदगी कितनी आसान हो सकती थी

अगर आप में कुछ करने का जज्बा है फिर दुनिया की शर्म, बातें और सबसे बड़ा रोग क्या कहेंगे लोग को भूल कर आगे बढ़ना होगा।

t4unews:- देखिए जिंदगी कितनी आसान हो सकती है अगर आप जरा सा प्रयास करेंगे तो...
राहें निकलने लगती है आपके आसपास के लोगों के बीच में से भीड़ में से..
यों रोते रहने को तो सारी गम कम पड़ जाएगी पर हंसने के लिए कुछ मौका ही काफी होते है..

जबलपुर के तंग गलियों और चौड़े चौड़े रोड वाली कॉलोनी से गुजरते हुए एक मोपेड मोटरसाइकिल द्वारा जो कई प्रकार के झाड़ू ,फानूस ,ब्रश और सैनिटाइजेशन के समान लिए हुए एसिड ,फिनाइल और ब्रसेस का गुच्छा अपने कैरियर पर टांगे हुए जब मेरे सामने से फेरी लगाते हुए

गुजरा तो मैं उसे देख कर ठिठक गया। मैंने ध्यान से देखा कि वह एक लाउडस्पीकर जो आजकल बहुतायत में मिल रहा है उससे उन्होंने ब्रॉडकास्टिंग के तरीके से लोगों को आवाज  लगाकर अपनी विक्रय किए जाने वाली वस्तुओं के बारे में अवगत कराते हुए वह सड़कों से निकल रहा था। करोना काल जैसे महामारी के समय जब सफाई का विशेष रूप से ध्यान रखा जा रहा है ऐसे में उसकी सैनिटाइजेशन के प्रोडक्ट जो अमूमन हर घर के लेट्रिन ,बाथरूम इत्यादि में लगते ही रहते हैं उसका व्यवसाय के रूप में अपना लेना मुझे बहुत अच्छा लगा। मैंने जब उससे पूछा कि क्या आप इसे होम डिलीवरी भी कर सकते हैं ? उसने  कहा तत्काल तो नहीं लेकिन हां जरूरत पड़ने पर अगर कोई मुझे फोन से कॉल करेगा तो मैं जरूर उस तक अपनी सामग्री पहुंचा सकता हूं ,और उसे वह सामग्री प्रदान कर सकता हूं । हमने उसे अपने थिंक फॉर यूनिटी पंचायत बाजार ग्रुप में शामिल किया ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसके बारे में जानकारी मिले और उस उत्साही युवा एंटरप्रेन्योर को बल देने के लिए ,उसके द्वारा करे जा रहे इस उद्यमिता के कार्य को जन-जन तक फैलाने के लिए।

आप अपनी आवश्यकताएं उन्हें बता सकते हैं। मोबाइल फोन पर उसे कॉल करके या पंचायत बाजार के सौजन्य से आप उन्हें सीधे अपने जानकारी लिखकर भी।



Download smart Think4unity app