कोरोना के रहते हुए ही ज़िंदगी चालू करना है... सीएम श्री चौहान

सागर संभाग के पन्ना ज़िले में अच्छा काम किया जा रहा है। यह सभी की सजगता से ही संभव हो पाया। परंतु, अभी और सख़्ती की ज़रूरत है जिससे किसी भी परिस्थिति में अब संक्रमण और न फैले। छतरपुर ज़िले की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि, यहाँ वैक्सीनेशन तथा टेस्टिंग बढ़ाने की आवश्यकता है। इसी प्रकार निवाड़ी में संक्रमण रोकने के लिए अच्छा कार्य किया गया है, उन्होंने कहा कि, यहाँ ग्रामीण इलाकों में नियंत्रण बेहतर है, इसे शहरी क्षेत्रों में भी अपनाएँ।

कोरोना के रहते हुए ही ज़िंदगी चालू करना है... सीएम श्री चौहान
Shri chauhan planting a tree

t4unews:-सागर संभाग में कोविड-19 की समीक्षा करने आये मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि,सभी के सहयोग और परिश्रम से कोरोना संक्रमण अब काफ़ी कुछ नियंत्रण में आ रहा है। संक्रमण पर इस नियंत्रण को क़ायम रखने के लिए हमें प्रयासों की पराकाष्ठा तक प्रयासरत रहना होगा।

 
उन्होंने निर्देश दिये कि, सम्पूर्ण सागर ज़िले की एक विस्तृत कार्ययोजना बनाएँ , जिस पर कार्य करते हुए 31 मई तक कोरोना संक्रमण पर क़ाबू पाएँ और 1 जून से अनलॉक की प्रक्रिया धीरे-धीरे शुरू की जाए।

312 कोरोना मुक्त ग्राम पंचायतों की सराहना की

बता दें कि, सागर की 312 ग्राम पंचायतें कोरोना मुक्त हैं और यहाँ 15 दिवस से भी अधिक से कोरोना का एक भी पॉज़िटिव प्रकरण सामने नहीं आया है। इस बात की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि, इन प्रयासों को जारी रखते हुए अन्य ग्राम पंचायतों और वार्डों को भी कोरोना मुक्त बनाएँ।

एक जून से वैक्सीनेशन के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा
 
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, सागर संभाग सहित प्रदेश के सभी संभागों में 1 जून 2021 से वैक्सीनेशन का वृहद अभियान चलाया जाए जिसमें अधिक से अधिक व्यक्तियों का टीकाकरण किया जाए। उन्होंने कहा कि, संक्रमण के नियंत्रण में  वैक्सीनेशन की प्रभावी भूमिका है।

 
कोरोना की तीसरी लहर के लिए भी रहें पूरी तरह से तैयार

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर के लिए पूरी तरह से तैयार रहते हुए बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल तथा बीना के अस्थाई अस्पताल में पहले से समस्त प्रकार की व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।


एक सप्ताह की पूर्ण सख़्ती करें और कोरोना को समाप्त करें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि, कोरोना पर क़ाबू पाने के लिए एक सप्ताह तक पूरी सख़्ती से जनता कर्फ़्यू का पालन कराया जाए। उन्होंने कहा कि, ज़िले, विकासखंड, बार्ड, ग्राम आदि सभी स्तर के क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप को और सशक्त बनाएँ। क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक आयोजित की जाए तथा महत्वपूर्ण मुद्दों पर जैसा है भागवत से ख़ारिज किया जाए। जिससे जनता भी जागरूक होकर सक्रिय सहभागिता निभाएगी।

इसके साथ ही वैक्सीनेशन तथा सैंपलिंग प्रतिशत भी बढ़ाएँ। उन्होंने कहा कि, कोरोना संक्रमण के उपचार के साथ-साथ योग, प्राणायाम का भी नियमित रूप से प्रशिक्षण दें। योग से व्यक्ति निरोगी और आत्मनिर्भर बनता है।

अब अपने रोज की भविष्यफल और लकी नंबर हेतू क्लिक करें



मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि, सागर संभाग के पन्ना ज़िले में अच्छा काम किया जा रहा है। यह सभी की सजगता से ही संभव हो पाया। परंतु, अभी और सख़्ती की ज़रूरत है जिससे किसी भी परिस्थिति में अब संक्रमण और न फैले। छतरपुर ज़िले की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि, यहाँ वैक्सीनेशन तथा टेस्टिंग बढ़ाने की आवश्यकता है। इसी प्रकार निवाड़ी में संक्रमण रोकने के लिए अच्छा कार्य किया गया है, उन्होंने कहा कि, यहाँ ग्रामीण इलाकों में नियंत्रण बेहतर है, इसे शहरी क्षेत्रों में भी अपनाएँ।

मुख्य मंत्री श्री चौहान ने कहा कि ब्लैक फंगस के उपचार के 12 हजार टैबलेट आ रहीं हैं। इस बीमारी के इलाज के लिए राज्य शासन हर स्तर पर प्रयास कर रही है। किसी भी मरीज़ को कोई दिक़्क़त नहीं आयेगी।

समीक्षा बैठक में केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री श्री प्रहलाद पटेल ,लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ठाकुर, राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत, मंत्री श्री बैजेन्द्र प्रताप सिंह ,जिला अध्यक्ष श्री गौरव सिरोठिया सागर विधायक श्री शैलेंद्र जैन ,नरयावली विधायक श्री प्रदीप लारिया, बीना विधायक श्री महेश राय ,सहित समस्त जनप्रतिनिधि अधिकारी मौजूद थे।



Download smart Think4unity app