4 मई से 10 जून के बीच होंगी 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं

  टीवी को जहां पहले मनोरंजन के लिए देखा जाता था, अब वही बच्चों को पढ़ा रहा है। स्टूडेंट्स और टीचर्स से की बातचीत इससे पहले केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने 10 दिसंबर और 22 दिसंबर को स्टूडेंट्स और टीचर्स से लाइव वेबिनार के जरिए बातचीत भी की थी। बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि बोर्ड परीक्षाएं फरवरी 2021 तक आयोजित नहीं कराई जाएंगी।  

4 मई से 10 जून के बीच होंगी 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं
CBSE 10वीं-12वीं परीक्षा

t4unews: केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने गुरुवार, 31 दिसंबर को CBSE 10वीं-12वीं परीक्षा का शेड्यूल जारी कर दिया है। जारी शेड्यूल के मुताबिक परीक्षाएं 4 मई से 10 जून के बीच आयोजित की जाएंगी, जबकि प्रैक्टिकल एग्जाम 01 मार्च से शुरू होंगे। वहीं, परीक्षा का रिजल्ट 15 जुलाई तक जारी किया जाएगा। शिक्षा मंत्री ने सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए आयोजित हुए लाइव वेबिनार के दौरान परीक्षा की तारीखों का ऐलान किया। स्टूडेंट्स और टीचर्स का जताया आभार वेबिनार के दौरान केंद्रीय मंत्री ने कहा कि चुनौती के समय भी स्टूडेंट्स और टीचर डटे रहे। कोरोना के समय छात्रों ने पूरे मनोबल के साथ परीक्षाएं दीं और हम सबने मिलकर साल बर्बाद होने से बचाया। अब हम आने वाले सेशन की तैयारी में जुटे हुए हैं। ऑनलाइन क्लास और टीवी चैनलों से सभी बच्चों तक शिक्षा पहुंचा रहे हैं। उन्होंने कहा कि CBSE ने कोरोना महामारी के कारण पढ़ाई को हुए नुकसान को देखते हुए 10वीं- 12वीं के सिलेबस में 30 फीसदी की कटौती की है। इससे छात्रों को काफी राहत मिली है। ऑनलाइन क्लासेस के जरिए पूरी की पढ़ाई श‍िक्षा मंत्री ने कहा कोरोनाकाल में अभ‍िभावक भी पीछे नहीं रहे हैं। टीचर भी योद्धा बनकर आगे रहे हैं। कोरोना के कारण पढ़ाई में आए गैप को ऑनलाइन क्लासेस के जरिए पूरा किया गया है। हालांकि, कुछ छात्र- छात्राएं ऐसे भी थे, जिनके पास ऑनलाइन श‍िक्षा उपलब्‍ध नहीं थी।

ऐसे में छात्रों को डीटीएच के जरिये टीवी और रेडियो के जरिए पढ़ाया गया। कोरोना काल में हुई दुनिया की सबसे बड़ी परीक्षा निशंक ने कहा कि मुझे गर्व है कि कठिन समय में भी शैक्षण‍िक गतिविध‍ियां चरमराई नहीं हैं। हम टीचर,स्‍टूडेंट से लगातार संवाद करते रहे। देश के 33 करोड़ छात्रों में से 25 करोड़ छात्रों ने ऑनलाइन पढ़ाई की। कोरोनाकाल में दुनिया की सबसे बड़ी परीक्षा JEE और NEET हुई। उन्होंने यह भी कहा कि पहले जहां हम मोबाइल पर स‍िर्फ दोस्‍तों से बात करते थे, अब उसी मोबाइल पर बच्चे लेसन सुनते है। टीवी को जहां पहले मनोरंजन के लिए देखा जाता था, अब वही बच्चों को पढ़ा रहा है। स्टूडेंट्स और टीचर्स से की बातचीत इससे पहले केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने 10 दिसंबर और 22 दिसंबर को स्टूडेंट्स और टीचर्स से लाइव वेबिनार के जरिए बातचीत भी की थी। बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि बोर्ड परीक्षाएं फरवरी 2021 तक आयोजित नहीं कराई जाएंगी। हालांकि, फरवरी के बाद यह परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में ही आयोजित होंगी। परीक्षाओं को लेकर जारी उलझन और भ्रम की स्थिति को देखते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि तारीखों की घोषणा होने से स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। साथ ही सभी को आश्वस्त कराया कि परीक्षा से जुड़े सभी फैसले आपके हित और भविष्य को ध्यान में रखकर ही लिए जाएंगे।  

source Dainik bhaskar 



Download smart Think4unity app