20 बाइक पर हथियार बंद बदमाश आए, दरवाजे पर लात मारी, तोड़फोड़ की, दीवार पर लगी नेमप्लेट पर चाकू घोंपा

भाजपा के पूर्व अध्यक्ष गोपीकृष्ण नेमा के मालगंज स्थित घर पर नकाबपोश बदमाशों ने सोमवार शाम हमला कर दिया। बाइक से आए हथियारों से लैस करीब 30 से ज्यादा बदमाशों ने यहां जमकर उत्पात मचाया। नेमा के मुताबिक बदमाश बाइक पर सवार होकर आए थे। हमलावरों ने घर के बाहर रखे गमले, कांच सहित कई सामान को तोड़ दिया। हमले के वक्त नेमा घर पर ही थे। उन्होंने कहा कि उनकी किसी से दुश्मनी नहीं है, लेकिन हमलावरों के हाथों में डंडे और हथियार थे। जानकारी लगते ही भाजपा के बड़े नेता और पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए। हथियारबंद बदमाशों ने बाहर रखे गमलों को भी तोड़ दिया।नेमा ने बताया कि कुछ लोग दिवाली पर मिलने आए थे। हम लोग अंदर बैठे थे। बाहर गाली-गलौज की आवाज और शोर सुनाई दिया, तो बाहर आया। यहां देखा तो कुछ नकाबपोश लट्ठ और तलवारें लेकर घर के दरवाजे पर खड़े थे। मैं बाहर आने लगा, तो मिलने आए लोगों ने पकड़ते हुए कहा कि बाहर नहीं जाना है। बदमाशों ने दरवाजे पर लात मारी और दीवार पर लगी नेम प्लेट पर चाकू मारा। घर के बाहर रखे गमलों को तोड़ दिया। दरवाजे और खिड़कियों के कांच तोड़ दिए। नेमा ने बताया कि उनकी किसी से दुश्मनी नहीं है। नेमा ने कहा कि 'मेरा किसी से विवाद नहीं है। घर पर मैं मेरी पत्नी, भाई और उसकी पत्नी थी। घर के बाहर एक युवक बैठा था, उसे भी पीटा। उसे अस्पताल ले जाया गया है। हमलावर 20 से 25 बाइक पर सवार होकर आए थे। उनकी संख्या करीब 40 लोगाें की रही होगी।' पुलिस के अनुसार विवाद की जानकारी मिली थी, जिसके बाद मौके पर पहुंचे थे। लोगों का कहना है कि 15 से 20 लोग थे। मामले की जांच कर रहे हैं। हमले की जानकारी लगते ही नगर अध्यक्ष सहित सभी बड़े नेता पहुंचे।नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे ने कहा कि नेमा जी के यहां दिवाली मिलन के लिए कुछ लोग आए थे। उन्हें मारने की नीयत से हमला किया गया। नेमा ने और उनके समर्थकों ने जवाब दिया तो वे भाग गए। ऐसे अराजक तत्वों पर कड़ी कार्रवाई होगी यह वचन मैं नेता हूं। सभी लाेग सुरक्षित हैं। हमलवारों ने खिड़की के कांच तोड़ दिए।मंत्री ठाकुर ने जताई चिंता, पुलिस को सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए संस्कृति, पर्यटन एक अध्यात्म मंत्री ऊषा ठाकुर ने पूर्व नगर अध्यक्ष गोपीकृष्ण नेमा के घर हुए हमले पर गहरी चिंता जताई। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटना निंदनीय है, ठाकुर ने डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्रा से चर्चा कर जल्द से जल्द बदमाशों को पकड़ने और सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। डीआईजी मिश्र ने भी मंत्री ठाकुर को आश्वस्त किया कि बदमाशों को सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। उन पर सख्त कार्यवाही करेंगे, जिससे घटना की पुनरावृत्ति न हो। हथियार लेकर घर के भीतर घुसते नजर आए हमलावर।प्रारंभिक जानकारी में पता चला है कि जो लोग नेमा से मिलने आए थे, उनमें से किसी का विवाद उन बदमाशों से था। उसके पीछे ही वो लोग यहां तक आए थे। जानकारी लगते ही नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे, विधायक मालिनी गौड़, कृष्णमुरारी मोघे, जेपी मूलचंदानी, सुदर्शन गुप्ता सहित कई भाजपा नेता पहुंचे। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today हथियारबंद हमलावरों सीसीटीवी में हमला करते नजर आए।

20 बाइक पर हथियार बंद बदमाश आए, दरवाजे पर लात मारी, तोड़फोड़ की, दीवार पर लगी नेमप्लेट पर चाकू घोंपा

भाजपा के पूर्व अध्यक्ष गोपीकृष्ण नेमा के मालगंज स्थित घर पर नकाबपोश बदमाशों ने सोमवार शाम हमला कर दिया। बाइक से आए हथियारों से लैस करीब 30 से ज्यादा बदमाशों ने यहां जमकर उत्पात मचाया। नेमा के मुताबिक बदमाश बाइक पर सवार होकर आए थे। हमलावरों ने घर के बाहर रखे गमले, कांच सहित कई सामान को तोड़ दिया। हमले के वक्त नेमा घर पर ही थे। उन्होंने कहा कि उनकी किसी से दुश्मनी नहीं है, लेकिन हमलावरों के हाथों में डंडे और हथियार थे। जानकारी लगते ही भाजपा के बड़े नेता और पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए। हथियारबंद बदमाशों ने बाहर रखे गमलों को भी तोड़ दिया।नेमा ने बताया कि कुछ लोग दिवाली पर मिलने आए थे। हम लोग अंदर बैठे थे। बाहर गाली-गलौज की आवाज और शोर सुनाई दिया, तो बाहर आया। यहां देखा तो कुछ नकाबपोश लट्ठ और तलवारें लेकर घर के दरवाजे पर खड़े थे। मैं बाहर आने लगा, तो मिलने आए लोगों ने पकड़ते हुए कहा कि बाहर नहीं जाना है। बदमाशों ने दरवाजे पर लात मारी और दीवार पर लगी नेम प्लेट पर चाकू मारा। घर के बाहर रखे गमलों को तोड़ दिया। दरवाजे और खिड़कियों के कांच तोड़ दिए। नेमा ने बताया कि उनकी किसी से दुश्मनी नहीं है। नेमा ने कहा कि 'मेरा किसी से विवाद नहीं है। घर पर मैं मेरी पत्नी, भाई और उसकी पत्नी थी। घर के बाहर एक युवक बैठा था, उसे भी पीटा। उसे अस्पताल ले जाया गया है। हमलावर 20 से 25 बाइक पर सवार होकर आए थे। उनकी संख्या करीब 40 लोगाें की रही होगी।' पुलिस के अनुसार विवाद की जानकारी मिली थी, जिसके बाद मौके पर पहुंचे थे। लोगों का कहना है कि 15 से 20 लोग थे। मामले की जांच कर रहे हैं। हमले की जानकारी लगते ही नगर अध्यक्ष सहित सभी बड़े नेता पहुंचे।नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे ने कहा कि नेमा जी के यहां दिवाली मिलन के लिए कुछ लोग आए थे। उन्हें मारने की नीयत से हमला किया गया। नेमा ने और उनके समर्थकों ने जवाब दिया तो वे भाग गए। ऐसे अराजक तत्वों पर कड़ी कार्रवाई होगी यह वचन मैं नेता हूं। सभी लाेग सुरक्षित हैं। हमलवारों ने खिड़की के कांच तोड़ दिए।मंत्री ठाकुर ने जताई चिंता, पुलिस को सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए संस्कृति, पर्यटन एक अध्यात्म मंत्री ऊषा ठाकुर ने पूर्व नगर अध्यक्ष गोपीकृष्ण नेमा के घर हुए हमले पर गहरी चिंता जताई। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटना निंदनीय है, ठाकुर ने डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्रा से चर्चा कर जल्द से जल्द बदमाशों को पकड़ने और सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। डीआईजी मिश्र ने भी मंत्री ठाकुर को आश्वस्त किया कि बदमाशों को सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। उन पर सख्त कार्यवाही करेंगे, जिससे घटना की पुनरावृत्ति न हो। हथियार लेकर घर के भीतर घुसते नजर आए हमलावर।प्रारंभिक जानकारी में पता चला है कि जो लोग नेमा से मिलने आए थे, उनमें से किसी का विवाद उन बदमाशों से था। उसके पीछे ही वो लोग यहां तक आए थे। जानकारी लगते ही नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे, विधायक मालिनी गौड़, कृष्णमुरारी मोघे, जेपी मूलचंदानी, सुदर्शन गुप्ता सहित कई भाजपा नेता पहुंचे।

source Dainik bhaskar



Download smart app