दिनांक 14 अक्टूबर 2021 आज का राशिफल Aaj ka rashifal Lohtaksh लोहताक्ष् ज्योतिष संस्थान

 ॐ श्री गणेशाय नमः

लोहिताक्ष् ज्योतिष संस्थान पंडित लक्ष्मीनारायण शास्त्री सागर

पञ्चाङ्ग-14-10-2021

“नवमं माँ सिद्धिदात्री देव्य्यै नमोSस्तुते”

शुभ् विक्रम् संवत् – 2078 आनन्द,

शालिवाहन् शक् संवत् – 1943 प्लव,

मास – (अमावस्यांत) आश्विन-माह,

पक्ष – शुक्ल, (पूर्णिमांत) आश्विन-माह,

तिथि – नवमी 18:51:56,

दिन – गुरुवार, सूर्य प्रविष्टे 28 आश्विन गते,

नक्षत्र – उत्तराषाढा 09:34:22, बाद-श्रवण,

योग – धृति 25:43:47,

करण – बालव 07:26:33, बाद-कौलव,

सूर्य – कन्या राशिगत,

चन्द्र – मकर राशिगत,

ऋतु – शरद, अयन – दक्षिणायन,

सूर्योदय – 06:22:26,

सूर्यास्त – 17:51:14,

चंद्रोदय – 14:24:37,

चंद्रास्त – 25:04:18,

दिन काल -11:28:48,

रात्री काल – 12:31:47,

राहू काल – 13:33-14:59 अशुभ,

यम घण्टा – 06:22-07:49 अशुभ,

अभिजित -11:44-12:30 शुभ,

दिशा शूल – दक्षिण दिशा अशुभ,

दिशा शूल शुभता :- आज गुरुवार के दिन राई (सरसों) खा कर घर से बाहर निकलें, शुभ रहेगा।

 विशेष :- आज नवमी तिथि को लौकी (घिया) खाना गोमांस के समान त्याज्य है। दशमी तिथि को कलम्बी का साग खाने से शरीर में रोग बढ़ता है।

( ब्रह्मवैवर्त-पुराण ),

दिनांक 14 अक्टूबर 2021 आज का राशिफल Aaj ka rashifal Lohtaksh लोहताक्ष् ज्योतिष संस्थान
rashifal

t4unews: आज का राशिफल पंडित लक्ष्मी नारायण शास्त्री के अनुसार

          !!!! राशिफल !!!!

 मेष राशि :- आज आपकी लोकप्रियता से शत्रु परास्त होंगे। पारिवारिक सुख-शांति बनी रहेगी। मान-प्रतिष्ठा तथा लाभ के योग मजबूत हैं। वाहन खरीदने के लिए समय उपयुक्त है।सम्पत्ति के विवाद समाप्त होंगे। शुभ अंक – 8 और शुभ रंग – सफेद है।

 वृषभ राशि :- आज अपने आहार व्यवहार में तालमेल बनाये रखें। आर्थिक मामलों में सावधानी रखें, लाभ होगा। परिवार में शांति बनाए रखेंगे। उदर रोग से पीड़ित रहेंगे। दिन मध्यम है। शुभ अंक – 3 और शुभ रंग – क्रीम है।

 मिथुन राशि :- आज समय की अनुकूलता का आभास होगा। लंबे समय से अटके मामलो में गति आएगी। व्यापारिक व्यस्तता बढ़ेगी। स्वास्थ्य नरम रहेगा। खर्च बढ़ेंगे। यात्रा के योग टालें। शुभ अंक – 3 और शुभ रंग – हरा है।

 कर्क राशि :- आज स्त्री पक्ष से लाभ के योग बनते हैं। संतान के स्वास्थ में सुधार होगा। सोच के परे काम हो रहे हैं। लाभ से हानि का अनुपात कम होगा, स्वास्थ्य ठीक रहेगा।कॅरियर में बदलाव आयेगा। शुभ अंक – 8 और शुभ रंग – क्रीम है।

 सिंह राशि :- आज किसी दूर के मित्र से मुलाकात हो सकती है। नए अनुबंध फायदेमंद साबित होंगे। धन लाभ होगा। शत्रु वर्ग सक्रिय रहेगा। कार्य की अधिकता रहेगी। शुभ अंक – 8 और शुभ रंग – ऑरेंज है।

 कन्या राशि :- आज समय की अनुकूलता का आभास होगा। व्यापार बदलने की जल्दबाजी न करें। खर्च की जगह लाभ होगा। निराशा कम होगी। स्वास्थ्य ठीक रहने के आसार हैं। शुभ अंक – 3 और शुभ रंग – हरा है।

 तुला राशि :- आज आप सोचेंगे कुछ, होगा कुछ। जीवन-साथी की लापरवाही से बड़ा नुकसान हो सकता है। बिना योजना बनाये लाभ के अवसर हाथ से निकलेंगे। खर्च बढ़ेंगे। शुभ अंक – 9 और शुभ रंग – गुलाबी है।

वृश्चिक राशि :- आज आपकी मेहनत और व्यवहार कुशलता से यश तथा लाभ में वृद्धि होगी। आपके प्रभाव से शत्रु शांत होंगे। पारिवारिक शांति, सुख-चैन रहेगा। निजी संबंधों में मधुरता आएगी। शुभ अंक – 6 और शुभ रंग – लाल है।

 धनु राशि :- आज लंबे समय से चली आ रही चिंता दूर होगी। सफलता से यश में वृद्धि होगी। सुदूर जाने के योग बनते हैं। भय बना रहेगा। संतान के व्यवहार से नाखुश होंगे। शुभ अंक – 5 और शुभ रंग – पीला है।

 मकर राशि :- आज सोचने समझने की शक्ति में कमी आएगी। माता-पिता के साथ समय व्यतीत होगा। धन लाभ के शुभ अवसर बनेंगे। विवादों में कमी होगी। विरोधी काम बिगाड़ सकते हैं। शुभ अंक – 2 और शुभ रंग – आसमानी है।

 कुंभ राशि :- आज परिवार में बुजुर्गो का स्वास्थ्य बिगड़ेगा। आपके कार्यस्थल पर विवादों को बढ़ावा मिलेगा। संयम से काम लें। आज आपका मौन ही लाभदायक होगा। शुभ अंक – 1 और शुभ रंग – जामुनी है।

 मीन राशि :- आज समय के उतार-चढ़ाव से निराश होंगे। जीवन-साथी से मनमुटाव हो सकता है। पुराने रोग उभरने की संभावना है। दिनचर्या नियमित बनाए रखने से लाभ होगा। धैर्य आवश्यक है। शुभ अंक – 5 और शुभ रंग – केसरिया है।

    !!! सुविचार !!!

“सर्वतीर्थमयी माता सर्वदेवमय: पिता।

मातरं पितरं तस्मात् सर्वयत्नेन पूजयेत्।।“

पद्मपुराण सृष्टिखंड – (47/11),

अर्थात :- माता सर्व-तीर्थमयी और पिता सम्पूर्ण देवताओं का स्वरूप हैं इसलिए सभी प्रकार से यत्नपूर्वक माता-पिता का पूजन करना चाहिए। जो माता-पिता की प्रदक्षिणा करता है, उसके द्वारा सातों द्वीपों से युक्त पृथ्वी की परिक्रमा हो जाती है। माता-पिता अपनी संतान के लिए जो क्लेश सहन करते हैं, उसके बदले पुत्र यदि सौ वर्ष माता-पिता की सेवा करे, तब भी वह इनसे उऋण नहीं हो सकता। भगवान श्री गणेश जी हम सभी का मङ्गल करें।

दिन की शुभ चौघड़ियाँ :~

शुभ – 06:22 – 07:49,

चर – 10:41 – 12:07,

लाभ – 12:07 – 13:33,

अमृत – 13:33 – 14:59,

शुभ – 16:25 – 17:51,

 रात्री की शुभ चौघड़ियाँ :~

अमृत – 17:51 – 19:25,

चर – 19:25 – 20:59,

लाभ – 24:07 - 25:41,

शुभ – 27:15 - 28:49,

अमृत – 28:49 - 30:23,

किस ‘होरा’ में कौन सा कार्य करना श्रेयस्कर होता है :~

1. सूर्य – माणिक्य धारण करना, सरकारी नौकरी हेतु आवेदन या पदभार ग्रहण, समस्त सरकारी कार्य, चुनाव व राजनीति संबंधी कार्य करें।

2. चंद्र – मोती धारण करना, यह होरा समस्त कार्यों के लिए शुभ होती है।

3. मंगल – मूंगा व लहसुनिया धारण करना, कर्ज देना, न्यायालय, पुलिस, सेना आदि से संबंधित कार्य, प्रशासनिक कार्य, मकान खरीदना चाहिये।

4. बुध – पन्ना धारण करना, व्यापार संबंधी कार्य, लेखा संबंधी कार्य, बैंक संबंधी कार्य, विद्यारम्भ, शिक्षा संबंधी कार्य करें।

5. गुरु – पुखराज धारण करना, उच्च अधिकारियों से भेंट, विवाह संबंधी कार्य, वस्त्र खरीदना इत्यादि करें।

6. शुक्र – हीरा धारण करना, आभूषण क्रय करना चहिये, सोने-चांदी का व्यापार, ललित कला संबंधी कार्य, नवीन वस्त्र धारण करना व अन्य वैभव विलासिता संबंधी कार्य करें।

7. शनि – नीलम व गोमेद धारण करना, गृहारम्भ करना, कारखानें स्थापित करना, लोहा-मशीनरी संबंधी कार्य, वाहन क्रय करना, न्यायालय संबंधी कार्य, कृषि कार्य, तेल संबंधी कार्य करें।

 दिन का होरा चक्र .....

बृहस्पति- 06:22 – 07:20,

मंगल- 07:20 – 08:17,

सूर्य- 08:17 – 09:15,

शुक्र- 09:15 – 10:12,

बुध- 10:12 – 11:09,

चन्द्र- 11:09 – 12:07,

शनि- 12:07 – 13:04,

बृहस्पति- 13:04 – 14:02,

मंगल- 14:02 – 14:59,

सूर्य- 14:59 – 15:56,

शुक्र- 15:56 – 16:54,

बुध- 16:54 – 17:51,

 रात्री का होरा चक्र .....

चन्द्र- 17:51 – 18:54,

शनि- 18:54 – 19:57,

बृहस्पति- 19:57 – 20:59

मंगल- 20:59 – 22:02,

सूर्य- 22:02 – 23:04,

शुक्र- 23:04 – 24:07,

बुध- 24:07 - 25:10,

चन्द्र- 25:10 - 26:12,

शनि- 26:12 - 27:15,

बृहस्पति- 27:15 - 28:18

मंगल- 28:18 - 29:20,

सूर्य- 29:20 - 30:23,



Download smart Think4unity app