काेटा से लाैटी थी जिले की पहली संक्रमित छात्रा, राजिम का एक किमी का एरिया कंटेनमेंट जोन घोषित

छत्तीसगढ़ के राजिम में सोमवार रात मिली छात्रा गरियाबंद जिले की पहली कोराेना संक्रमित है। वह कुछ दिन पहले ही राजस्थान के कोटा से लौटी थी। देर रात उसे रायपुर एम्स ले जाया गया। बताया जा रहा कि छात्रा 30 दूसरे बच्चों के साथ कोटा से लौटी थी। उसे...

छत्तीसगढ़ के राजिम में सोमवार रात मिली छात्रा गरियाबंद जिले की पहली कोराेना संक्रमित है। वह कुछ दिन पहले ही राजस्थान के कोटा से लौटी थी। देर रात उसे रायपुर एम्स ले जाया गया। बताया जा रहा कि छात्रा 30 दूसरे बच्चों के साथ कोटा से लौटी थी। उसे कवर्धा के क्वारैंटाइन सेंटर में सात दिनों के लिए रखा गया था। इसके बाद जिला प्रशासन की ओर से राजिम के पं. श्यामाचरण शुक्ल चौक,वार्ड क्रमांक-1 के एक किमी दायरे को कंटेनमेंट जोन घोषित करते हुए उसे सील कर दिया गया है।

कलेक्टर श्याम धावड़े की ओर से जारी आदेश में कंटेनमेंट जोन के लिए प्रभारी अधिकारी नगर पंचायत राजिम के सीएमओ चंदन मानकर और अनुविभागीय अधिकारी राजस्व जीडी वाहिले को पर्यवेक्षण अधिकारी नियुक्त किया गया है। कंटेनमेंट जोन में सभी दुकानें और अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। प्रभारी अधिकारी की ओर से घर पहुंच सेवा (होम डिलीवरी) के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जाएगी। साथ ही जोन अंतर्गत सभी प्रकार के वाहनों के आवगमन पर प्रतिबंध रहेगा।

मास्क पहनना अनिवार्य किया गया
कलेक्टर ने आम लोगों से सावधानी और सतर्कता बरतने की अपील की है। लोगों को कोरोना संक्रमण से बचने के लिए मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। आदेश में कहा गया है कि शासन की ओर से जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए कोरोना वायरस के रोकथाम में लगे स्वास्थ्य कर्मी, राजस्व, पुलिस और मैदानी अमलो का सहयोग करें। उन्होंने ग्राम पंचायत के सरपंच, सचिव और ग्रामवासियों से क्वारैंटाइन में रहने वाले मजदूरों को दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करवाने कहा है।

 


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

 

छत्तीसगढ़ के राजिम में कोरोना संक्रमित छात्रा के मिलने के बाद एक किमी के इलाके को सील कर दिया गया है। स्वास्थय विभाग व नगर निकाय की टीम वहां व्यवस्था करने में जुटी है। (फाइल फोटो)


Download smart Think4unity app